RajpalSinghSisodiya
RajpalSinghSisodiya
RajpalSinghSisodiya
RajpalSinghSisodiya
RajpalSinghSisodiya

जो भरा नहीं हैं भावों से, बहती जिसमे रसधार नहीं।
हृदय नहीं वह पत्थर है जिसमे स्वदेश का प्यार नहीं ।।

RajpalSingh-About

क प्रखर वक्ता, समाजसेवी, एक प्रभावी राजनेता, सहकारिता मित्र, उन्नत कृषक और पेशे से वकालत करने वाले श्री राजपाल सिंह सिसोदिया का व्यक्तित्व अपने आप में कई ज्वलंत अनुभवों का लिखित दस्तावेज़ है। वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी मध्यप्रदेश के प्रदेश प्रवक्ता राजपाल सिंह सिसोदिया का जन्म १९७२ में ग्राम कल्याणपुरा जिला उज्जैन के एक धार्मिक, संपन्न किसान व शिक्षित राजपूत परिवार में पिता श्री देवी सिंह सिसोदिया (प्रधानाध्यापक, शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश) एवं माता श्रीमति केशरकुंवर सिसोदिया के घर हुआ। आपका विवाह श्रीमती सरोज सिंह सिसोदिया (पूर्व जनपद सदस्य, जनपद पंचायत, उज्जैन (२००४-२०१०)) से १९९१ में सम्पन्न हुआ। श्री यशपाल सिंह सिसोदिया आपके सुपुत्र हैं।

राजपाल सिंह बाल्यकाल से ही महाराणा प्रताप, स्वामी विवेकानंद, पंडित दीनदयाल उपाध्याय, तथा अटल बिहारी वाजपेई जैसे महान राष्ट्रभक्तों के जीवनकार्यों से प्रेरणा प्राप्त करते हुए विशेष रूप से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की राष्ट्रवादी विचारधारा से प्रभावित हुए तथा वे संघ के एक सक्रिय स्वयं सेवक बन गए। आपको समाज सेवा की प्रेरणा बचपन से ही विरासत में मिली, अतः बढ़ती आधुनिकता के इस दौर में भी आपने मानव समाज के प्रति अपने दायित्वों को समझते हुए अपना जीवन जनसेवा एवं देशसेवा हेतु समर्पित करने का निश्चय किया एवं भारतीय जनता पार्टी में नेतृत्व की प्रभावशाली यात्रा की और उन्मुख हुए।

!! स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा !!

अंतर्मन के गान सा, सृष्टि के निर्माण सा;
कलरव गौरव गान सा, अतुलित भारतवर्ष हमारा ।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा ।
क्षुब्ध-क्षुधा, पीड़ित तन-मन, बीहड़ सा अँधियारा;
सूर्य रश्मि सा दृढ निश्चय है मंत्र विकास हमारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
अगणित बलिदानों से प्राप्त स्वराज्य यह प्यारा;
कर्मयोग से ही संभव है भारत भाग्य विधाता।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
रामकृष्ण से लीलाधारी, शिवा हो या महाराणा;
श्वेत कपोतों से नहीं बनता आज़ादी का उजियारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
युद्ध नहीं टाले जा सकते, केवल कोरी बातों से;
वीर जवानो के शोणित से रक्तिम है काश्मीर अतिन्यारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
भट्ट-भास्कर सांदीपनि या तक्षशिला, नालंदा।
शास्त्रार्थ सार्थक करना है आंगन हो या गलियारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
आओ फिर से शौर्य जगाएं, भारत की कोटि भुजाओं में।
विश्वगुरु हो पुनः सुशोभित हिन्दुस्तान हमारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।

- राजपाल सिंह सिसोदिया

!! स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा !!

अंतर्मन के गान सा, सृष्टि के निर्माण सा;
कलरव गौरव गान सा, अतुलित भारतवर्ष हमारा ।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा ।
क्षुब्ध-क्षुधा, पीड़ित तन-मन, बीहड़ सा अँधियारा;
सूर्य रश्मि सा दृढ निश्चय है मंत्र विकास हमारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
अगणित बलिदानों से प्राप्त स्वराज्य यह प्यारा;
कर्मयोग से ही संभव है भारत भाग्य विधाता।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
रामकृष्ण से लीलाधारी, शिवा हो या महाराणा;
श्वेत कपोतों से नहीं बनता आज़ादी का उजियारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।
आओ फिर से शौर्य जगाएं, भारत की कोटि भुजाओं में।
विश्वगुरु हो पुनः सुशोभित हिन्दुस्तान हमारा।
स्वर्णिम भारत लक्ष्य हमारा।

- राजपाल सिंह सिसोदिया

विजय हमें विनम्र बनानी चाहिए तथा पराजय हमारी अगली विजय के लिए सीख व प्रेरणा ही होती है।

वीडियो

संपर्क के लिए फीड करे


ईमेल:

rpssisodiya@gmail.com

संपर्क:

+91 942 509 1020

Office Of Spokesperson
BJP Madhya Pradesh

'RAJBHAWAN' - B 6/17, Mahakal Vanijya Kendra, Nanakheda, Ujjain 456010 Madhya Pradesh INDIA